छत्तीसगढ़

ढेबर की होटल Vennington Court समेत 121 करोड़ की प्रापर्टी कुर्क

छत्तीसगढ़ शराब घोटाला जिसे ईडी ने क़रीब 2000 करोड़ का बताया है उसमें  IAS अनिल टूटेजा, मेयर एजाज ढेबर के बड़े भाई अनवर ढेबर, आबकारी विभाग के कार्पोरेशन के एमडी अरुण पति त्रिपाठी समेत अन्य की 119 अचल संपत्ति कुर्क की है. ईडी ने इसकी क़ीमत क़रीब 121 करोड़ 87 लाख रुपए बताई है अब तक इस मामले में 180 करोड़ रुपये कि जप्ती की गई है. ईडी ने ट्वीट कर उपरोक्त जानकारी दी है.

30-40% अवैध देसी शराब बेचने का दावा

छत्तीसगढ़ में 6 मई को शराब घोटाले में कारोबारी अनवर ढेबर की गिरफ्तारी करने के बाद ED ने कोर्ट में रिमांड पेपर में दावा किया था कि छत्तीसगढ़ की सरकारी 800 दुकानों में 30 से 40 प्रतिशत अवैध देसी शराब बेची गई, ये एक सिंडिकेट था, जिसे कारोबारी अनवर ढेबर और आईएएस अधिकारी अनिल टुटेजा जैसे लोग चलाते थे. इस सिंडिकेट ने 3 साल में राज्य को 2000 करोड़ रुपये का चूना लगाया”

न्यायिक हिरासत में अनवर ढेबर

कोर्ट ने 19 मई को अनवर ढेबर और नीतेश पुरोहित को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया. वहीं, राज्य के आबकारी विभाग के विशेष सचिव अरुणपति त्रिपाठी और त्रिलोक सिंह ढिल्लों उर्फ पप्पू की ईडी हिरासत 23 मई तक बढ़ा दी गई. ईडी ने इस मामले में सबसे पहले 6 मई को रायपुर के मेयर और कांग्रेस नेता एजाज ढेबर के बड़े भाई अनवर को गिरफ्तार किया था. इसके बाद रायपुर स्थित गिरिराज होटल के प्रमोटर पुरोहित और शराब कारोबारी त्रिलोक सिंह ढिल्लों को गिरफ्तार किया गया था. अरुणपति त्रिपाठी को जांच एजेंसी ने 12 मई को गिरफ्तार किया था.

Show More

Aaj Tak CG

यह एक प्रादेशिक न्यूज़ पोर्टल हैं, जहां आपको मिलती हैं राजनैतिक, मनोरंजन, खेल -जगत, व्यापार , अंर्राष्ट्रीय, छत्तीसगढ़ , मध्यप्रदेश एवं अन्य राज्यो की विश्वशनीय एवं सबसे प्रथम खबर ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button