राष्ट्रीय

आज दोपहर तट से टकरा सकता है ‘बिपरजॉय’ चक्रवात, 150 KM की स्पीड से चलेंगी हवाएं

अरब सागर में उठा चक्रवाती तूफान बिपरजॉय (Cyclone Biparjoy) आज दोपहर तक गुजरात के तट से टकरा सकता है। इसी के मद्देनजर गुजरात के 442 गांवों को अलर्ट पर रखा गया है। निचले इलाके के इन इलाकों में भारी बारिश होने की आशंका है। मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि Biparjoy Cyclone कच्छ जिले के जखाऊ बंदरगाह पर लैंडफॉल करेगा। मौसम विभाग के मुताबिक गुरुवार को दोपहर या शाम जब तूफान तट से टकराएगा और उस समय इसकी स्पीड 125 से लेकर 150 किलोमीटर तक होगी। चक्रवात बिपरजॉय के कारण द्वारकाधीश मंदिर को आज श्रद्धालुओं के लिए बंद किया गया है।

राहत व बचाव की तैयारी में जुटा प्रशासन

Biparjoy Cyclone के कारण होने वाले संभावित नुकसान को देखते हुए गुजरात प्रशासन तैयारी में जुटा हुआ है। बीते 2 दिनों के अंदर गुजरात के तटीय इलाकों से 74 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया है। संभावना है कि गुजरात के 8 जिलों के 442 निचले गांव भारी बारिश के कारण बाढ़ से प्रभावित हो सकते हैं।

इन इलाकों में लोग शिफ्ट

अकेले कच्छ में करीब 34,300 लोगों को राहत व बचाव शिविर में पहुंचाया गया है। जामनगर में 10,000, मोरबी में 9,243, राजकोट में 6,089, देवभूमि द्वारका में 5,035, जूनागढ़ में 4,604, पोरबंदर जिले में 3,469, गिर सोमनाथ जिले में 1,605, लोगों को शिफ्ट किया गया है। NDRF ने गुजरात और महाराष्ट्र में टीमों को तैनात किया है। सिर्फ गुजरात में ही 18 टीमें सक्रिय है। महाराष्ट्र में 14 टीमों को लगाया गया है।

समुद्र में उठ सकती है 20 फीट ऊंची लहरें

मौसम विभाग के मुताबिक 15 जून को अरब सागर के उत्तर-पूर्व में Biparjoy Cyclone के चलते समुद्र में 9 से 20 फीट तक तूफानी लहरें उठती है। इस दौरान कच्छ, द्वारका, पोरबंदर, जामनगर, रोजकोट, जूनागढ़ और मोरबी में रिकॉर्ड तोड़ बारिश होने की संभावना है। साथ ही बादल फटने की घटना भी हो सकती है। गुजरात के द्वारका में आकाशवाणी के उस टावर को गिरा दिया गया है, जिससे आशंका है कि अगर 150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाएं चलीं तो ये टावर गिरना तय है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button