छत्तीसगढ़ट्रेंडिंग

चिकित्सा अधिकारियों एवं स्टॉफ नर्सेज को डे-केयर कीमोथेरेपी का दिया गया विशेष प्रशिक्षण

कीमोथेरेपी की सुविधा वाले राज्य के 17 जिला अस्पतालों के चिकित्सा अधिकारियों एवं स्टॉफ नर्सेज को आज डे-केयर कीमोथेरेपी का विशेष प्रशिक्षण दिया गया. नई दिल्ली के प्रसिद्ध ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. दिनेश पेंढारकर और मध्यप्रदेश राज्य कैंसर कीमोथैरेपी के नोडल अधिकारी डॉ. सी.एम. त्रिपाठी ने इन्हें प्रशिक्षण दिया. राज्य में कैंसर सेवाओं के सुदृढ़ीकरण में सहयोग के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के संचालक भोसकर विलास संदिपन ने डॉ. पेंढारकर और डॉ. त्रिपाठी को प्रशिक्षण कार्यशाला में सम्मानित किया. कार्यशाला में कैंसर केयर मार्गदर्शिका का विमोचन भी किया गया. एनपी-एनसीडी के उप संचालक डॉ. नेतराम नवरतन,  राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के राज्य कार्यक्रम प्रबंधक आनंद साहू, शहरी स्वास्थ्य कार्यक्रम प्रबंधक डॉ. प्रदीप टंडन और एनसीडी के राज्य कार्यक्रम समन्वयक डॉ. सुमी जैन भी कार्यशाला में उपस्थित थीं.

वर्तमान में प्रदेश के 17 जिला चिकित्सालयों में दीर्घायु वार्ड बनाकर डे-केयर कीमोथेरेपी की सुविधा प्रदान की जा रही है. राज्य के सुदूर जिलों दंतेवाड़ा, नारायणपुर, बस्तर, कांकेर, बलरामपुर, जशपुर, सरगुजा और सूरजपुर सहित बालोद, बेमेतरा, बिलासपुर, गरियाबंद, जांजगीर, कोरबा, मुंगेली, रायपुर तथा धमतरी के जिला अस्पतालों में कैंसर के मरीजों को निःशुल्क कीमोथेरेपी की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है. प्रदेश के सभी जिला अस्पतालों में चरणबद्ध रूप से कीमोथेरेपी की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी. कीमोथैरेपी के साथ ही जिला अस्पतालों में कैंसर की स्क्रिीनिंग भी की जा रही है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button