छत्तीसगढ़

युवती से दुष्कर्म के बाद शादी के लिए धर्म अपनाने का बना रहा था दबाव

सकरी क्षेत्र में किराए के मकान में रहने वाली मनेंद्रगढ़ जिले की 22 वर्षीय युवती से मुस्लिम युवक ने दुष्कर्म किया। इससे वह गर्भवती हो गई। तब उसका जबरदस्ती गर्भपात कराया। वहीं शादी के लिए धर्म बदलने का दबाव बनाने लगा। इसके लिए मारपीट भी की थी। युवती ने सकरी थाने में शिकायत की तो पुलिस ने साधारण मारपीट का मामला दर्ज कर युवती को चलता कर दिया था। वहीं आइजी की दखल के बाद अब दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है।

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि वह प्राइवेट नौकरी ढूंढ रही थी। साल 2020 में कुम्हारपारा जरहाभाठा निवासी आकिब खान से उसकी जान-पहचान हुई। आकिब उसे अच्छी नौकरी लगवाने का भरोसा दिया। दोनों एक-दूसरे से बातचीत करने लगे। इस बीच आकिब ने एक प्राइवेट कंपनी में पीड़िता की नौकरी लगवाई।

दिसंबर 2020 में आकिब अपनी कार से पीड़िता को शहर से बाहर घुमाने के बहाने जंगल की ओर ले गया। नौकरी लगवाने के बदले जबरन दुष्कर्म किया। इसके बाद पीड़िता ने पुलिस में शिकायत करने की बात कही। तब युवक उसे धमकाने लगा। साथ ही शादी करने का झांसा दिया। इसके बाद वह लगातार दुष्कर्म करता रहा। वर्ष 2022 में आकिब के जन्मदिन पर पीड़िता ने उसे प्रेग्नेंट होने की जानकारी दी।

इससे युवक भड़क गया और बच्चे को गिराने के लिए दबाव बनाया। पीड़िता द्वारा विरोध करने पर उसके साथ मारपीट की गई। पीड़िता ने बताया कि आकिब और उसके भैया-भाभी रूम में आए और उस पर हिंदू धर्म को छोड़ने के लिए दबाव बनाने लगे। निकाह करवाने का प्रलोभन भी दिया। पीड़िता के मना करने पर आकिब और उसके परिवार वाले केस वापस करने के लिए दबाव बनाने लगे। साथ ही जेवर भी लौटाने की बात कही।

फोन व जेवर भी लूट लिया

साल 2021 में पीड़िता ने 45 हजार रुपये से आई फोन खरीदा। फिर आकिब ने दूसरा फोन देने का झांसा देकर आई फोन को बेच दिया। कुछ दिन बाद पीड़िता की आलमारी से सोने की चेन, झुमका व नकदी 33 हजार रुपये निकाल लिए। जेवर को गिरवी रख दिया। वहीं उस पैसे को जुए में हार गया।

दवा खिलाकर दो बार कराया गर्भपात

जब आकिब को पीड़िता के गर्भवती होने के बारे में पता चला तो झांसा देकर दवा खिला दिया। इससे पीड़िता की तबीयत बिगड़ गई। दो सप्ताह तक उसकी हालत खराब रही। इसके बाद आकिब उससे दूरी बनाने लगा। फोन से बात करना बंद कर दिया। कुछ समय बाद फिर आकिब पीड़िता के रूम में आया। शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म किया। वर्ष 2023 में पीड़िता फिर से गर्भवती हो गई। इस बार भी दवा खिलाकर गर्भपात करा दिया।

हिंदू रीति-रिवाज का नाम सुनकर की मारपीट

जब पीड़िता ने हिंदू रीति-रिवाज से शादी करने के लिए कहा तो आकिब भड़क गया और गाली-गलौज करते हुए मारपीट की। बोला कि मेरा भाई पुलिस में है, उसे जो करना है कर ले। इसके बाद पीड़िता सुबह चार बजे सकरी थाना शिकायत करने पहुंची। तब पुलिस ने मारपीट के तहत अपराध दर्ज कर पीड़िता को भगा दिया। तब पीड़िता ने नारी शक्ति टीम से मदद मांगी। टीम की सदस्य नीतिशा पनानी, अन्नु विश्वकर्मा व ललिता लहरे की मदद से आइजी से न्याय की गुहार लगाई। तब आइजी की दखल के बाद पुलिस इस मामले में दुष्कर्म के तहत अपराध दर्ज किया।

हिंदू धर्म छोड़ने का बनाया दबाव

पीड़िता ने बताया कि इस दौरान आकिब और उसके भैया-भाभी रूम पर आए और उस पर हिंदू धर्म को छोड़ने के लिए दबाव बनाने लगे। निकाह करवाने का प्रलोभन भी दिया। पीड़िता के मना करने पर आकिब और उसके परिवार वाले केस वापस करने के लिए दबाव बनाने लगे। साथ ही जेवर भी लौटाने की बात कही।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button