राष्ट्रीय

भारत में पर्यटकों की पहली पसंद बना ये जिंदादिल शहर, 1 साल में घूमने पहुंचे 7.12 करोड़ लोग

डॉमेस्टिक टूरिज्म के मामले में यूपी (UP) का वाराणसी (Varanasi) शहंशाह बन गया है. टूरिज्म डिपार्टमेंट की ओर से जारी हुए साल 2022 के आंकड़ों के मुताबिक, रिकॉर्ड तोड़ 7.12 करोड़ से अधिक सैलानी वाराणसी पहुंचे. पर्यटकों की ये संख्या अयोध्या, मथुरा, आगरा, प्रयागराज और झांसी से अधिक है. एक साल में 31.79 करोड़ से अधिक टूरिस्ट उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिलों में पहुंचे. कहा जा रहा है कि काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर के निर्माण के बाद से टूरिज्म इंडस्ट्री नई ऊंचाइयों तक पहुंच गया है. देश-विदेश से टूरिस्ट वाराणसी जा रहे हैं. डिप्टी डायरेक्टर टूरिज्म आरके रावत के अनुसार, काशी विश्वनाथ धाम कॉरिडोर बनने और सुविधाओं में बढ़ोतरी के बाद से काशी में पर्यटकों का आना बढ़ गया है और यह टूरिस्ट्स के लिए पहली पसंद बन गया है.

वाराणसी में पर्यटकों को क्या-क्या है पसंद?

बता दें कि वाराणसी में बड़ी संख्या में टूरिस्ट काशी विश्वनाथ के दर्शन और वर्ल्ड फेमस गंगा आरती देखने आते हैं. लोग यहां गंगा नदी में स्नान भी करते हैं और फिर बाबा विश्वनाथ के दर्शन करते हैं. इसके अलावा पर्यटक भगवान बुद्ध की उपदेश स्थली सारनाथ भी जाते हैं. जान लें कि काशी का लोगों के लिए धार्मिक, ऐतिहासिक और सांस्कृतिक तीन तरह से काफी महत्व है.

प्राचीन मंदिर हैं आकर्षण का केंद्र

गौरतलब है कि अपने विशाल और प्राचीन मंदिरों के लिए वाराणसी विश्व प्रसिद्ध है. वाराणसी में कई लोकप्रिय जगह हैं जो करोड़ों पर्यटकों को अपनी तरफ खींचती हैं. वाराणसी आना सिर्फ भारतीयों को ही नहीं बल्कि विदेशी टूरिस्ट्स को भी खूब पसंद है.

वाराणसी में जरूर घूमें ये स्थान

वाराणसी में कुछ ऐसे स्थान हैं जिन्हें लोग खूब पसंद करते हैं. इनमें काशी विश्वनाथ धाम, दशाश्वमेध घाट, बीएचयू विश्वनाथ मंदिर, मणिकर्णिका घाट, अस्सी घाट, दुर्गाकुंड मंदिर, मान मंदिर घाट, तुलसी मानस मंदिर, नमो घाट, नेपाली मंदिर, संकट मोचन मंदिर, ललिता घाट, बनारस हिंदू विश्वविद्यालय, रामनगर किला, मृत्युंजय महादेव मंदिर और भारत माता मंदिर आदि का नाम शामिल है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button