अपराधअन्य खबर

फैक्टरी में कंप्रेशर ब्लास्ट होने से मैकेनिक के चीथड़े उड़े, दो की मौत

नई दिल्ली . यमुनापार के गोकुलपुरी इलाके की एक फैक्टरी में कंप्रेशर ब्लास्ट होने से एक तरफ एक मैकेनिक के चीथड़े उड़ गए. वहीं, दूसरी तरफ ब्लास्ट से गिरी दीवार की चपेट में आने से एक ऑटो चालक की मौत हो गई. इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई, जबकि दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए.

जख्मी हालत में दोनों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. पुलिस ने लापरवाही से मौत समेत अन्य संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है. जांच में जुटी पुलिस यह पता करने का प्रयास कर रही है कि फैक्टरी मालिक ने इससे संबंधित सभी तरह की परमिशन ले रखी थी या अवैध रूप से ही यह फैक्टरी चल रही थी.

ब्लास्ट में मारे गए लोगों में रोहिणी निवासी मैकेनिक 38 वर्षीय बबलू और खजूरी खास निवासी 60 वर्षीय ऑटो चालक राम करण शामिल हैं, जबकि घायलों में दीपक और साहिल शामिल हैं. दोनों का इलाज चल रहा है.

जानकारी के मुताबिक, गोकलपुर गांव में करीब 150 गज में बनी प्लास्टिक की बोतल बनाने वाली फैक्टरी में शनिवार शाम करीब साढ़े तीन बजे ब्लास्ट होने की सूचना पुलिस को मिली. कॉल करने वाले ने बताया कि मेट्रो पिलर नंबर-5 के सिलिंडर फटने से तीन जख्मी हुए हैं, जिनमें से दो को अस्पताल ले जाया गया है. सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची तो देखा कि वहां एक घर के भीतर प्लास्टिक मॉल्डिंग फैक्टरी चल रही थी, जहां ब्लास्ट हुआ था. जांच करने पर यह पता चला कि हादसे की चपेट में चार लोग आए हैं, जिसमें से मैकेनिक बबलू की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि ऑटो ड्राइवर राम करण को डॉक्टरों ने अस्पताल में मृत घोषित किया है. जांच में सामने आया कि कंप्रेशर टैंक में ब्लास्ट होने से हादसा हुआ. यह कंप्रेशर टैंक प्लास्टिक मोल्डिंग मशीन के लिए इस्तेमाल किया जाता था. फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां भी मौके पर पहुंची थी. पुलिस जांच में पता चला कि प्रॉपर्टी का मालिक नरेश है. पुलिस ने मालिक को कॉल किया तो उनसे संपर्क नहीं हो सका. उन्होंने अपना फोन बंद कर रखा था. डीसीपी जॉय टिर्की ने बताया कि प्रॉपर्टी और फैक्टरी मालिक की धर-पकड़ के लिए कई टीमों को लगाया गया है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button