अन्य खबरट्रेंडिंगमनोरंजन

होटलों और ट्रेनों में सिर्फ सफेद चादर का ही क्यों करते है इस्तेमाल? जानिए बड़ी ही दिलचस्प वजह

हम सभी यात्रा के दौरान होटल जरूर लेते हैं और हमेशा कोशिश करते हैं कि ऐसा कमरा बुक करें जहां साफ-सफाई हो और बेडशीट भी साफ हों. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि होटल की बेडशीट सफेद ही क्यों होती हैं?

या ट्रेनों में यात्रियों को सिर्फ सफेद चादर ही क्यों दी जाती है?

इस जानकारी को पढ़ने के बाद आपके मन में यह सवाल आ रहा होगा कि आखिर हर होटल और ट्रेन में यात्रियों को ये रंगीन चादरें क्यों दी जाती हैं. तो आज हम आपकी इस उलझन को दूर करेंगे और आपको बताएंगे कि होटल और ट्रेनों में सफेद चादर का इस्तेमाल क्यों किया जाता है.

सफेद चादर ही क्यों बिछाई जाती है?

दरअसल होटलों और ट्रेनों में इस्तेमाल होने वाली इन चादरों को साफ करने के लिए ब्लीच का इस्तेमाल किया जाता है. और जैसा कि हम सभी जानते हैं, यह ब्लीचिंग तकनीक रंगीन चादरों को बहुत जल्दी फीका कर सकती है. ब्लीच के कारण पहली धुलाई में रंग निकल सकता है, जबकि सफेद चादरें नहीं निकलती हैं, टिकी रहती हैं और साफ करने में आसान होती हैं. इसके अलावा, ब्लीचिंग तकनीक चादरों को पूरी तरह से गंधहीन भी रखती है. ब्लीच से धोने के बाद चादरों से बदबू नहीं आती. यही कारण है कि इस रंग की चादर का प्रयोग होटलों और ट्रेनों में किया जाता है.

इसका उपयोग होटल-ट्रेनों में इस समस्या को दूर करने के लिए किया जाता है

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि सफेद रंग तनाव को दूर रखता है, वहीं सफेद रंग देखने से हमारे मन-मस्तिष्क को शांति मिलती है. इससे यात्रियों के आसपास सकारात्मक माहौल भी आता है. चाहे आप किसी होटल में हों या ट्रेन में, सफेद रंग का नजारा आपको सुकून का एहसास करा सकता है, इसलिए आपको सफेद चादर दी जाती है. इसके अलावा सफेद चादर पर दाग आसानी से दिख जाते हैं, जिससे होटल और ट्रेन स्टाफ के लिए इसे साफ करना आसान हो जाता है.

बिस्तर की चादरों की सफाई

होटल के कमरे में रुकने से पहले उस जगह की साफ-सफाई का ध्यान रखें जहां आप आराम करने जा रहे हैं. उदाहरण के लिए, बिस्तर पर सोने से पहले उस पर बिछी चादरों को ठीक से जांच लें. कई बार चादरों के ऊपर कंबल रख दिया जाता है और लोग बिना जांचे ही चादरों पर सो जाते हैं. एक बार कम्बल हटाकर देख लें कि कहीं कुछ रखा तो नहीं है या चादर साफ तो नहीं है.

होटल में गद्दों की भी जांच करें

होटलों में जहां सबसे ज्यादा कीड़े पाए जाते हैं, वहीं सिर के नीचे रखा तकिया भी होता है. इसलिए सोने से पहले एक बार इसे जांच लें. यदि आप फिर भी संतुष्ट नहीं हैं तो आप होटल स्टाफ से इसे बदलने के लिए कह सकते हैं. वे आपके लिए साफ़ तकिए ला सकते हैं.

होटल के कमरों में रिमोट रखे गए थे

कई बार आपने होटल के रिमोट को गंदा होते हुए देखा होगा और कई बार तो यह इतना गंदा होता है कि इसे छूने का मन ही नहीं करता. यदि आपके साथ भी कुछ ऐसा होता है, तो होटल के कर्मचारियों को इसे साफ़ करने या इसे बदलने के लिए कहा जा सकता है.

ऊपर बताई गई चीजों के अलावा होटल के कमरे में और भी कई चीजें हैं, जिन्हें छूने से पहले आपको सैनिटाइज करना चाहिए या होटल स्टाफ से साफ करने के लिए कहना चाहिए, जैसे कमरे में रखा टेलीफोन, कुर्सी, मिनी रूम. फ्रिज आदि. कीटाणुओं से भरपूर सैल्मन को छूने से न सिर्फ आप बल्कि बच्चे भी बीमार हो सकते हैं.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button