अन्य खबरट्रेंडिंगराष्ट्रीय

ट्रेन की अपर बर्थ गिरने से नीचे बैठे यात्री की मौत

ट्रेन के कोच में यात्रा करते समय एक यात्री के गलत तरीके से जंजीर लगाने के कारण ऊपरी बर्थ की सीट गिरने से केरल के एक 60 वर्षीय बुजुर्ग की उपचार के दौरान मौत हो गई. राजकीय रेलवे पुलिस (GRP) ने बुधवार को यह जानकारी दी. दक्षिण रेलवे ने बुधवार को मिलेनियम एक्सप्रेस में सवार यात्री की मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया और साफ किया कि ट्रेन के डिब्बे के बीच वाली बर्थ की स्थिति अच्छी थी.

जीआरपी ने बताया कि 16 जून को केरल निवासी अली खान सी.के. अपने दोस्त के साथ ट्रेन संख्या 12645 ‘एर्नाकुलम-हजरत निजामुद्दीन मिलेनियम सुपरफास्ट एक्सप्रेस’ के स्लीपर कोच की निचली बर्थ से सवार होकर आगरा जा रहे थे. जीआरपी के एक अधिकारी ने बताया कि ट्रेन के तेलंगाना के वारंगल जिले से गुजरते समय घटना हुई.

उन्होंने बताया कि बुजुर्ग की गर्दन में चोट आई थी और उन्हें पहले रामागुंडम के एक अस्पताल में ले जाया गया, जहां से उन्हें हैदराबाद के एक अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया. 24 जून को उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई. इस संबंध में एक मामला दर्ज कर लिया गया है. रेल मंत्रालय के आधिकारिक प्रवक्ता ने सोशल मीडिया ‘मंच’ ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा कि संबंधित यात्री एस-6 कोच की सीट नंबर 57 (निचली बर्थ) पर यात्रा कर रहा था.

पोस्ट में लिखा था, ‘एक यात्री द्वारा ऊपरी बर्थ की सीट पर चेन ठीक से नहीं लगाए जाने के कारण सीट नीचे गिर गई.’ पोस्ट में कहा गया, ‘यह स्पष्ट किया जाता है कि सीट क्षतिग्रस्त हालत में नहीं थी, न ही वह गिरी थी और न ही दुर्घटनाग्रस्त हुई थी. निजामुद्दीन स्टेशन पर सीट की जांच की गई और वह ठीक पाई गई.’

दक्षिणी रेलवे ने इस घटना पर स्पष्टीकरण देते हुए कहा कि मीडिया में ऐसी खबरें आई हैं कि बीच का बर्थ जो खुली हुई हालत में था या फिर क्षतिग्रस्त स्थिति में था, जो कि बल्किुल निराधार हैं. विज्ञप्ति में यह स्पष्ट किया जाता है कि संबंधित यात्री द्वारा बीच के बर्थ को ऊपरी बर्थ के साथ सही तरीके से नहीं जोड़ने के कारण बीच का बर्थ अचानक से खुल गया था.

गौरतलब कि रेलवे द्वारा अनुचित रखरखाव के कारण बीच का बर्थ नीचे नहीं गिरा, न ही दुर्घटनाग्रस्त हुआ. उन्होंने कहा कि रखरखाव विफलता का आरोप लगाने वाली रिपोर्ट पूरी तरह भ्रामक हैं. विज्ञप्ति में कहा है कि हजरत निजामुद्दीन में बीच के बर्थ की गहनता से जांच की गई और बर्थ की स्थिति अच्छी पाई गई है. भारतीय रेलवे शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करता है और अपने यात्रियों को सर्वोत्तम संभव सेवा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button